भारतीय महिला बैडमिंटन टीम ने इतिहास रचा,एशियाई चैंपियनशिप में हासिल कि शानदार जीत

Sahab Ram
2 Min Read

 

Yuva Haryana भारत की बेटियों ने बैडमिंटन में एक नया इतिहास रचते हुए एशियाई चैंपियनशिप में बहुमूल्य खिताब हासिल किया है। पहली बार इस प्रतियोगिता में भारतीय महिला टीम ने शानदार खेलकर थाईलैंड को तीन एक से हराया।

इस उपलब्धि के साथ, भारत ने इस चैंपियनशिप के इतिहास में अपना स्थान बनाया और पहली बार इस खिताब को अपने नाम किया।

भारतीय महिला बैडमिंटन टीम ने पहले दो मुकाबले में शानदार जीत हासिल की, लेकिन थाईलैंड ने उत्कृष्ट प्रदर्शन करके स्कोर 2-2 बराबर कर दिया। फाइनल मुकाबले में, भारतीय टीम ने तीन एक से जीत हासिल करके ऐतिहासिक जीत दर्ज की।

17 साल की अनमोल खरब ने खुद से ऊंची रैंक वाली खिड़की को हराकर टीम को अहम लीड दिलाई। स्टार खिलाड़ी पीवी सिंधु ने भी फाइनल में शानदार शुरुआत दी और विश्व रैंकिंग की 17 वी स्थानीय खिड़की सुपानिदा को 21-12, 21-12 से हराया।

इसके बाद गायत्री और त्रिसा जोली ने डबल्स मुकाबले में रोमांचक जीत हासिल की, जिससे भारत की टीम को विश्वसनीय लीड मिली। इस जीत के साथ ही भारत को फाइनल जीतने के लिए केवल एक और जीत की आवश्यकता थी।

दूसरे एकल मुकाबले में बुसानन ने भारत की अस्मिता को महज 35 मिनट में 21-11, 21-14 से हराया। पूर्व में हार का सामना करने पर प्रियंका और श्रुति ने भी थाईलैंड की ऐमसार्ड के खिलाफ हार का सामना किया, लेकिन इस बात को ध्यान में रखते हुए भारत की टीम ने इतिहास रचा और एशियाई चैंपियनशिप का खिताब जीता।

Share This Article
Leave a comment