हरियाणा में पुत्र ने जमीन और पैसों के लालच में पिता को उतारा मौत के घाट, धारदार हथियार से किया हमला

Sahab Ram
3 Min Read

Yuva Haryana: हरियाणा के महेंद्रगढ़ जिले के गांव दौंगड़ा अहीर में जमीनी विवाद और रुपये के लेनदेन को लेकर एक पुत्र ने अपने पिता की हत्या कर दी। मृतक 85 वर्षीय भोजाराम और आरोपी धर्मपाल दोनों ही गांव दौंगड़ा अहीर के निवासी हैं।

मृतक के दूसरे पुत्र रामपाल ने पुलिस को शिकायत देकर अपने भाई धर्मपाल पर हत्या का आरोप लगाया है।
मृतक भोजाराम ने अपनी जमीन राष्ट्रीय राजमार्ग 152डी में बेची थी।

उन्होंने अपने तीनों बेटों को 4-4 लाख रुपये दिए थे, लेकिन आरोपी धर्मपाल इस बात से नाराज था। धर्मपाल हमेशा पैसे और जमीन जायदाद के बंटवारे को लेकर पिता से झगड़ा करता था।

वीरवार शाम को आरोपी धर्मपाल ने अपने पिता पर तेजधार हथियार से हमला कर दिया। हमले में मृतक की आधी गर्दन कट गई और उनकी मौत हो गई।

पुलिस ने मृतक के पुत्र रामपाल की शिकायत पर आरोपी धर्मपाल के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर लिया है।
पुलिस मामले की जांच कर रही है।

पुलिस ने मृतक के शव का पोस्टमार्टम करा शव परिजनों को सौंप दिया है। पुलिस आरोपी की गिरफ्तारी के लिए छापेमारी कर रही है। यह घटना सड़क सुरक्षा और पुलिसिंग व्यवस्था पर गंभीर सवाल उठाती है।

मृतक भोजाराम के तीन बेटे और दो बेटियां हैं। मृतक का बेटा सुरेश पहले ही मर चुका है। तीनों बेटे अलग-अलग रहते हैं। मृतक के बेटे रामपाल ने बताया कि उनके पिता को धर्मपाल पहले भी कई बार धमका चुका था।

रामपाल ने बताया कि वीरवार शाम को उसे सूचना मिली कि उसके पिता को किसी ने तेजधार हथियार से हमला कर घायल कर दिया है और वह खून से लथपथ हालात में पड़ा है। सूचना के बाद मौके पर पहुंचकर देखा तो उसका पिता ओधे मुंह पड़ा था तथा उसकी आधी गर्दन काटी हुई थी।

मौके पर पुलिस को सूचना दी गई जिसके बाद डीएसपी मोहम्मद जमाल, कनीना सदर थाना प्रभारी रामनाथ ने टीम के साथ पहुंचकर मौका मुआयना किया।

पुलिस ने आरोपी के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर आगामी कार्रवाई शुरू कर दी थी। पुलिस ने मृतक के पुत्र रामपाल की शिकायत पर धर्मपाल के खिलाफ हत्या का मामला दर्ज कर शुक्रवार को नागरिक अस्पताल में शव का पोस्टमार्टम करा शव परिजनों के हवाले कर दिया। हालांकि पुलिस अभी इस मामले में गहनता से जांच में जुटी हुई है।

Share This Article
Leave a comment