हरियाणा की बेटी कर्नल सरिता यादव का निधन, पूरे गांव में छाई शोक की लहर

Sahab Ram
2 Min Read

 

Yuva Haryana : हर कोई सेना में शामिल होने का सपना देखा है, जिससे उसे अपने देश की सेवा करने का मौका मिले। हरियाणा के रेवाड़ी जिले में जिला सैनिक एवं अर्ध सैनिक कल्याण बोर्ड की कल्याण अधिकारी कर्नल सरिता यादव का निधन हो गया। उनके पैतृक गांव लाधुवास में शनिवार को सैनिक सम्मान व पुलिस की सलामी के साथ उनका अंतिम संस्कार किया गया, इस दौरान उनका पूरा गांव मौजूद था।

जिला प्रशासन की तरफ से भी कर्नल सरिता यादव को श्रद्धांजलि दी गई। साथ ही जिला उपायुक्त एवं अध्यक्ष जिला सैनिक बोर्ड राहुल हुड्डा ने भी उनके निधन पर गहरा दुख जताया।

लेफ्टिनेंट कर्नल सरिता यादव का जन्म सन 1966 में दिल्ली के पास स्थित गांव मादीपुर में एक मध्यम वर्ग परिवार में हुआ था। इन्होंने दिल्ली के विश्वविद्यालय से नर्सिंग विषय में स्नातक की डिग्री भी हासिल की थी, साथ ही साल 1989 में इन्हें भारतीय थल सेना लेफ्टिनेंट के पद पर चुना गया था।

साल 2010 में 21 वर्षों तक सेवा के मिलिट्री नर्सिंग सर्विस कोर्स से अवकाश प्राप्त करके इन्होंने बतौर जिला सैनिक बोर्ड के सचिव के तौर पर फतेहाबाद में साल 2012 मे कार्यभार संभाला था। साथ ही इन्हें हरियाणा के कई जिलों में जिला सैनिक बोर्ड के सचिव के पद पर कार्य करने का भी मौका मिला।

इनकी अंतिम विदाई के दौरान गांव में काफी भीड़ इकट्ठा हो गई। पूरे सैनिक सम्मान के साथ इन्हें श्रद्धांजलि दी गई, वही गांव के लोगों में भी उनके प्रति सम्मान दिखाई दिया।

यह दुखद घटना न केवल उनके परिवार के लिए बल्कि पूरे गांव के लिए भी अविस्मरणीय है। सरिता यादव ने अपने जीवन में सेना और समाज सेवा में अपना समय और ऊर्जा दी। उनकी याद और उनके कार्यों को सदैव याद रखा जाएगा।

Share This Article
Leave a comment