हरियाणा सरकार करेगी ‘शहरी नियोजन कॉन्क्लेव’ की मेजबानी, चंडीगढ़ में 5-6 फरवरी, 2024 को होगा कॉन्क्लेव

Sahab Ram
2 Min Read

चंडीगढ़, 2 फरवरी – भारत सरकार के आवास और शहरी मामलों के मंत्रालय (एमओएचयूए) के तत्वावधान में शहरी नियोजन के अधीन गठित उच्च-स्तरीय समिति तथा हरियाणा के टाउन एंड कंट्री प्लानिंग विभाग परस्पर सहयोग से चंडीगढ़ में ‘शहरी नियोजन कॉन्क्लेव’ आयोजित करेंगे।

यह कॉन्क्लेव 5-6 फरवरी, 2024 को चंडीगढ़ के होटल हयात में होगा। इसका उद्धघाटन हरियाणा के मुख्य सचिव श्री संजीव कौशल करेंगे।

इस संबंध में जानकारी देते हुए एक सरकारी प्रवक्ता ने बताया कि इस महत्वपूर्ण सम्मेलन का मुख्य उद्देश्य शहरी नियोजन के क्षेत्र में हरियाणा की राज्य-विशिष्ट पहलों और नीतियों पर प्रकाश डालते हुए हितधारकों के बीच एक व्यापक संवाद और ज्ञान-साझाकरण मंच की सुविधा प्रदान करना है।

इसके अलावा ,निजी भागीदारी, पारगमन-उन्मुख विकास (टीओडी), विकास अधिकारों का हस्तांतरण (टीडीआर), किफायती आवास और अन्य प्रासंगिक शहरी विकास मुद्दों पर भी चर्चा होगी।

उन्होंने बताया कि भारत सरकार और राज्य सरकार के विभिन्न विभागों के 100 से अधिक ब्यूरोक्रेट और टेक्नोक्रेट, जिनमें प्रशासनिक सचिव, विभागाध्यक्ष (एचओडी), टाउन प्लानर और डीयूएलबी, एचएसवीपी, जीएमडीए, एफएमडीए जैसे विभाग/एजेंसियों के अन्य वरिष्ठ पदाधिकारी शामिल हैं, के भाग लेने की उम्मीद है।

इसके अलावा, उच्च स्तरीय समिति, एमओएचयूए, नीति आयोग, इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ ह्यूमन सेटलमेंट (आईआईएचएस), एसपीए, सीईपीटी, चंडीगढ़ कॉलेज ऑफ आर्किटेक्चर (सीए), एचआरईआरए, इंस्टीट्यूट ऑफ अर्बन फाइनेंस एंड गवर्नेंस जैसे शैक्षणिक संस्थानों के प्रतिष्ठित वक्ता भी अपने विचार रखेंगे।

प्रवक्ता ने आगे बताया कि दो दिवसीय कॉन्क्लेव में पैनल चर्चा और समापन सत्र के साथ 6 तकनीकी सत्र होंगे।

 

Share This Article
Leave a comment