हरियाणा सरकार का बड़ा फैसला, राजस्थान के इन जिलों को पानी देगा हरियाणा , इन शर्तों के साथ बैठक में बनी सहमति

Sahab Ram
2 Min Read

 

हरियाणा सरकार ने राजस्थान को यमुना नदी के अतिरिक्त पानी देने का फैसला किया है, जिस पर बैठक में सहमति बनी है। इस फैसले का एलान नई दिल्ली में केंद्रीय जल शक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत की बीच में हुई बैठक के बाद किया गया।

बैठक में हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर और राजस्थान के मुख्यमंत्री भजन लाल शर्मा शामिल थे।

इस समझौते के तहत, हरियाणा सरकार ने राजस्थान को यमुना की बाकी जल से संबंधित हथिनी कुंड बैराज से जरूरत का पानी प्रदान करने का निर्णय लिया है। इसके बाद बचा हुआ पानी राजस्थान को सप्लाई किया जाएगा।

केंद्रीय मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने सोशल मीडिया प्लेटफॉर्म पर इस महत्वपूर्ण निर्णय की जानकारी साझा करते हुए कहा, “राजस्थान और हरियाणा के बीच बनी डीपीआर के तहत सहमति बनी है।

इसके माध्यम से चूरू, सीकर, झुंझुनू और राजस्थान के अन्य जिलों को पानी पहुंचाया जाएगा।”

समझौते के तहत, बरसाती दिनों में जरूरत के बाद राजस्थान को यमुना का अतिरिक्त पानी प्राप्त होगा। यह समझौता हरियाणा की सरकार के दक्षिण हरियाणा से राजस्थान को पानी सप्लाई करने की दिशा में कदम बढ़ाने का हिस्सा है।

राजस्थान में बीजेपी सरकार बनने के बाद यह प्रस्ताव उत्तराधिकारी मुख्यमंत्री भजन लाल शर्मा द्वारा किया गया था।

इस समझौते का पूरा होने के लिए 4 महीने का समय दिया गया है और इसमें केंद्रीय जल आयोग और ऊपरी यमुना नदी बोर्ड भी शामिल होंगे।

गजेंद्र सिंह शेखावत ने इस महत्वपूर्ण समझौते को “ठोस और स्थायी समाधान” की दिशा में एक “मजबूत कदम” बताया और इसे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के मार्गदर्शन का परिणाम माना। उन्होंने कहा, “जो मुद्दा दो दशकों से अटका हुआ था, उसका समाधान हो गया है।”

 

Share This Article
Leave a comment