हरियाणा में मुख्यमंत्री की बड़ी घोषणा,अब कौशल रोजगार निगम में नौकरी के लिए जिले के अंदर होगा चयन

Sahab Ram
1 Min Read

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल  ने विधानसभा के बजट सत्र में एक बड़ा ऐलान किया है, जिससे रोजगार से जुड़े कर्मचारियों को काफी राहत मिलेगी।

मुख्यमंत्री ने घोषणा की कि अब से हरियाणा कौशल रोजगार निगम के माध्यम से नौकरी प्राप्त करने वालों को जिले के बाहर नियुक्ति नहीं मिलेगी। इसका मकसद लोगो को  ठेकेदारों के शोषण से बचाना है और नौकरी पाने वालों को अधिक लाभ प्रदान करना है।

हरियाणा कौशल रोजगार निगम (HKRN) के जरिए अस्थाई नौकरी प्राप्त करने वाले कर्मचारियों को अब यह लाभ मिलेगा कि उन्हें ठेकेदारों के द्वारा किए जाने वाले शोषण से मुक्ति मिलेगी।

इस निर्णय से पहले से ही लगभग 1 लाख 8 हजार कर्मचारियों को निगम में Port किया गया है, जो अब इस नए निर्णय के अनुसार जिले के अंदर ही रहकर काम करेंगे।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने बताया कि यह निर्णय कर्मचारियों को ठेकेदारों के शोषण से बचाने के लिए लिया गया है, और उन्हें इंपीएफ, ईएसआई सहित अन्य लाभ प्रदान करवाए जा रहे हैं।

नौकरी प्राप्त करने के लिए युवाओं का चयन पूरी तरह पारदर्शी तरीके से किया जा रहा है और विभाग कर्मचारियों की मांग के अनुसार उन्हें नौकरी दी जाएगी।

Share This Article
Leave a comment