हरियाणा के अस्पतालों में इस दिन से लागू होगा ड्रेस कोड, नहीं पहन सकेंगे जींस, T-Shirt और Denim Skirt

Sahab Ram
2 Min Read

पॉप

Yuva Haryana: हरियाणा के अस्पतालों में कल यानी एक मार्च से ड्रेस कोड लागू हो जाएगा। इसके लिए बाकायदा डिजाइनर से यूनिफॉर्म डिजाइन करवाई गई है। कोड के तहत पश्चिमी सभ्यता वाले कपड़े, हेयर स्टाइल, भारी गहने, एसेसरीज श्रृंगार, लंबे नाखून वर्किंग आवर के दौरान अस्वीकार्य होंगे। नेम प्लेट पर कर्मचारी का नाम और पदनाम दर्ज होगा।
हरियाणा के स्वास्थ्य विभाग ने अस्पतालों में ड्रेस कोड के लागू होने का निर्णय लिया है, जो 1 मार्च से प्रभावी होगा। इस कोड के अनुसार, कामकाजी घंटों के दौरान पश्चिमी कपड़े, हेयर स्टाइल, भारी गहने, मेकअप सहायक उपकरण, और लंबे नाखून अस्वीकार्य होंगे।

ड्रेस कोड के तहत, सभी सिविल सर्जनों को वर्दी पहनने का निर्देश दिया गया है। उनके नाम और पदनाम नेम प्लेट पर दर्ज किया जाएगा। नर्सिंग संवर्ग के प्रशिक्षु नेम प्लेट के साथ सफेद शर्ट और काली पैंट पहन सकते हैं।

ड्रेस कोड के अनुसार, पुरुष कर्मचारियों के बाल कॉलर की लंबाई से अधिक नहीं होनी चाहिए और महिला कर्मचारियों को डेनिम स्कर्ट नहीं पहनने दिया जाएगा। जींस, डेनिम स्कर्ट और किसी भी रंग की डेनिम ड्रेस को प्रोफेशनल ड्रेस नहीं माना जाएगा और इन्हें पहनने की इजाजत नहीं होगी।

ड्रेस कोड के तहत, निम्नलिखित वस्त्रों और जूतों की अनुमति नहीं होगी

1. टी-शर्ट, स्ट्रेच टी-शर्ट, स्ट्रेच पैंट, फिटिंग पैंट, लेदर पैंट, कैपरी, हिप हगर, स्वेटपैंट, टैंक टॉप, स्ट्रैपलेस, बैकलेस टॉप, ड्रेस, टॉप, क्रॉप टॉप, कमर लाइन के नीचे टॉप, और लो नेक लाइन टॉप।
2. जूते-चप्पलों के मामले में जूतों को काले, आरामदायक, सजावट से मुक्त, और साफ-सुथरे होने चाहिए।

 

Share This Article
Leave a comment