Haryana में प्राइमरी के बच्चों के लिए बड़ी अपडेट ,अब अगली क्लास में जाने के लिए देना होगा ये Exam

Sahab Ram
2 Min Read

 

 

Yuva Haryana: हरियाणा में अब कक्षा 1 से कक्षा 3 तक के बच्चों को अगली कक्षा में जाने से पहले महारत हासिल होगी। अगर बच्चा उत्तीर्ण नहीं हुआ तो उसे कुशल विद्यार्थी का दर्जा नहीं मिलेगा और नए शैक्षणिक सत्र के प्रथम 3 माह में उसे पिछली कक्षा का पाठ्यक्रम दोहराना पड़ेगा।

इसके लिए स्कूल शिक्षा निदेशालय ने पत्र भी जारी किया है। यह पहल, सरकारी स्कूलों में शिक्षा के स्तर को बढ़ाने के लिए किया गया है। अब स्कूल प्रमुख अपने- अपने स्कूलों में एफएलएन (बेसिक लिटरेसी एंड न्यूमेरेसी) के तहत पढ़ाया जा रहा है। इस प्रक्रिया से बच्चों की कमियों को दूर किया जाएगा और उन्हें बेहतर शिक्षा का लाभ मिलेगा।

स्कूल प्रमुख अब अपने-अपने स्कूलों में एफ. एल. एन. छात्रों की संख्या इंगित करेंगे ताकि नए सत्र में अगली कक्षा में प्रवेश करने से पहले बच्चों की कमियों को दूर किया जा सके। पहली से तीसरी कक्षा में पढ़ने वाले बच्चों को एफ. एल. एन. के तहत उपचारात्मक कक्षाएं देकर कुशल बनाया जाएगा।

बाल वाटिका से तीसरी कक्षा तक के छात्रों को हिंदी और गणित में निर्धारित सूची से पाँच दो-अक्षर वाले शब्दों को सही ढंग से पढ़ना होगा। पहली कक्षा के बच्चों को पाँच सरल शब्दों के दो अक्षरों से बने वाक्यों को पढ़ना होगा।

जबकि दूसरी कक्षा के बच्चों को पैराग्राफ को 45 शब्द प्रति मिनट के प्रवाह के साथ पढ़ना होगा और पैराग्राफ को पढ़कर 75 प्रतिशत प्रश्नों को सही ढंग से हल करना होगा।

 

 

किंडरगार्टन से कक्षा 3 तक के विद्यार्थियों को हिंदी और गणित में निर्धारित सूची में से 2 अक्षर के 5 शब्द सही ढंग से पढ़ने होंगे।

पहली कक्षा के बच्चों को पांच सरल शब्दों के 2 अक्षरों से बने वाक्य पढ़ने होंगे, जबकि दूसरी कक्षा के बच्चों को 45 शब्द प्रति मिनट के प्रवाह से पैराग्राफ पढ़ना होगा और पैराग्राफ पढ़ने के बाद 75 प्रतिशत प्रश्नों को सही ढंग से हल करना होगा।

 

Share This Article
Leave a comment