हरियाणा में किसानों के लिए बड़ी खबर, अब एक दिन में सिर्फ इतनी सरसों बेच सकेंगे किसान

Sahab Ram
2 Min Read

 

 

Yuva Haryana:हरियाणा में किसानों के लिए बड़ी खुशखबरी है। राज्य में मंगलवार से सरसों की सरकारी खरीद शुरू हो चुकी है, जिससे किसानों को अच्छी बाजार दर मिलेगी। इसके साथ ही, गेहूं की सरकारी खरीद भी 1 अप्रैल से शुरू होगी।

यह सरकारी उपाय किसानों को फायदा पहुंचाने के लिए उनके आर्थिक संघर्ष में एक प्रमुख कदम है।

कृषि विभाग के आंकड़ों के अनुसार, इस साल अभी तक 10 लाख 52 हजार 338 किसानों ने कुल 89 लाख 85 हजार 431 एकड़ क्षेत्र में से 61 लाख 45 हजार 937 एकड़ रबी फसल क्षेत्र का Registration कराया है।

सरकार ने एक किसान के लिए एक दिन में 25 क्विंटल सरसों की खरीद की Limit निर्धारित की है ।अगर किसान की उपज 25 क्विंटल से ज्यादा है तो उसे अगले दिन फसल खरीद के लिए आना होगा।

सरकारी Record के अनुसार , सूबे में कुल रबी फसल क्षेत्र का लगभग 68.4 प्रतिशत राज्य सरकार के मेरी फसल-मेरा ब्योरा पोर्टल पर पंजीकृत किया गया है.  मेरी फसल-मेरा ब्योरा Portal पर किसानों की तरफ से पंजीकृत फसल को MSP पर खरीदा जाएगा।

खरीद प्रक्रिया के अनुसार पोर्टल पर रजिस्ट्रेशन नंबर दिखाने पर ही किसानों को एमएसपी के लिए वैध माना जाएगा. इसके बाद कर्मचारी इसे रिकॉर्ड में Check करेगा।

इसके बाद किसान के पंजीकृत मोबाइल नंबर पर एक वन-टाइम पासवर्ड (OTP) आएगा। OTP दिखाने के बाद किसान को गेट पास जारी किया जाएगा। प्रदेश भर के 104 खरीद केंद्रों पर 5,650 रुपए प्रति क्विंटल की दर से सरसों की खरीद शुरू हो चुकी है।

सरकार की तरफ से 1 अप्रैल से 2,275 रुपए प्रति क्विंटल की दर से गेहूं की खरीद के लिए 414 खरीद केंद्र बनाए गए है। इस साल सरसों का अनुमानित उत्पादन 14 लाख मीट्रिक टन से ज्यादा है।

Share This Article
Leave a comment