हरियाणा रोडवेज ड्राइवर की बेटी का कमाल, खेलो इंडिया यूथ बॉक्सिंग में जीता कांस्य पदक

Sahab Ram
2 Min Read

हरियाणा रोडवेज के एक ड्राइवर की बेटी ने चेन्नई में खेलो इंडिया नेशनल यूथ गेम बॉक्सिंग में कांस्य पदक जीतकर तमिलनाडु का नाम रोशन किया है। बल्लभगढ़ के सैनिक स्कूल में पढ़ने वाली 12वीं कक्षा की छात्रा डिंपल ने 48 किलोग्राम भार वर्ग में यह उपलब्धि हासिल की है।

इससे पहले उन्होंने सीबीएसई खेलों में इसी वर्ग में स्वर्ण पदक जीता था। घर लौटने पर स्कूल प्रिंसिपल ने छात्रा और उसकी मां को सम्मानित किया और उनके उज्ज्वल भविष्य की कामना की.

तमिलनाडु के चेन्नई में खेलो इंडिया नेशनल यूथ गेम बॉक्सिंग में कांस्य पदक जीतकर लौटी छात्रा डिंपल ने स्कूल पहुंचकर राष्ट्रीय ध्वज फहराया, वहीं स्कूल प्रिंसिपल रेनू आर्य ने छात्रा और उसकी मां को सम्मानित किया.

डिंपल ने बताया कि वह सैनिक स्कूल की 12वीं कक्षा की छात्रा है और उसने बॉक्सिंग में 48 किलोग्राम भार वर्ग में कांस्य पदक जीता है।

छात्र ने बताया कि स्कूल प्रशासन ने पढ़ाई और खेल में उसकी काफी मदद की. डिंपल ने कहा कि अब उनका लक्ष्य अंतरराष्ट्रीय खेलों में गोल्ड जीतना है जिसके लिए वह कड़ी मेहनत कर रही हैं.

डिंपल की मां निर्मला ने बताया कि उनकी बेटी ने उन्हें गौरवान्वित किया है और उन्हें उम्मीद है कि भविष्य में वह और मेहनत करेगी और गोल्ड जीतेगी. उन्होंने बताया कि डिंपल के पिता हरियाणा रोडवेज में ड्राइवर हैं.

इस मौके पर स्कूल प्रिंसिपल ने कहा कि डिंपल उनके स्कूल की बहुत ही होनहार छात्रा है और वह 12वीं क्लास आर्ट्स की छात्रा है और कई सालों से कड़ी मेहनत कर रही है.

उन्होंने बताया कि डिंपल ने सीबीएसई गेम्स में गोल्ड जीता था और अब खेलो इंडिया गेम्स में राष्ट्रीय स्तर पर खेलते हुए कांस्य पदक जीता है। हम सभी उसका हौसला बढ़ा रहे हैं और खुश हैं कि आने वाले समय में वह और भी बेहतर प्रदर्शन करेगी.

 

Share This Article
Leave a comment