राजस्थान बॉर्डर पार से हरियाणा में शराब तस्करों की बढ़ी मुश्किलें, पुलिस अपराधियों पर इस तरह कसेगी शिंकजा

Sahab Ram
2 Min Read

 

Yuva Haryana : शुक्रवार को भिवानी में हरियाणा और राजस्थान पुलिस की एक बैठक हुई, जिसमें दोनों राज्यों के पुलिस अधिकारियों ने भाग लिया। इस बैठक में लोकसभा चुनाव के मद्देनजर अपराध पर अंकुश लगाने के लिए कई महत्वपूर्ण निर्णय लिए गए।

दोनों राज्यों की पुलिस ने संगठित आपराधिक गिरोह और वांछित अपराधियों की सूची साझा की है। बॉर्डर पर संयुक्त नाकाबंदी की जाएगी। सोशल मीडिया पर भी दोनों राज्यों की पुलिस निगरानी रखेगी। लोकसभा चुनाव के दौरान अवैध हथियार, अवैध शराब और नशीले पदार्थों की तस्करी पर शिकंजा कसेगा।

इस बैठक में भिवानी के पुलिस अधीक्षक वरुण सिंगला, चूरू जिला के एसपी जय यादव, झुंझुनूं के एसपी राजश्री राज वर्मा, महेंद्रगढ़ एसपी हर्ष वर्मा, सीओ राजगढ़ प्रशांत किरण, सीओ चिड़ावा विकास ढींढवाल, सीओ भादरा सुभाष गोदारा, डीएसपी खेतड़ी जुल्फिकार अली, डीएसपी मुख्यालय भिवानी रमेश कुमार, डीएसपी भिवानी सहित चूरू, हनुमानगढ़, झुंझुनूं के सीमावर्ती थाना प्रबंधक और जिला भिवानी के प्रबंधक थाना लोहारू, सिवानी और बहल के प्रबंधक थाना मौजूद रहे।

अवैध हथियार और शराब तस्करी पर भी कसेगा शिकंजा
चोरी, लूट की वारदात को अंजाम देने वाले गिरोह और उनकी कार्यप्रणाली पर चर्चा कर आपसी तालमेल से अंकुश लगाया जाएगा।

अवैध हथियार, अवैध शराब और नशीले पदार्थों के अवैध कारोबार पर शिकंजा कसने के लिए सभी इंटर स्टेट नाकों पर सख्ती से चेकिंग की जाएगी।

दोनों राज्यों के थाना स्तर पर थाना प्रबंधकों द्वारा आपसी तालमेल बनाकर अपराधियों को पकड़ा जाएगा।

 

 

Share This Article
Leave a comment