Yuva Haryana
बुढ़ापे में करोड़पति बनकर होंगे रिटायर, हर महीने खाते में आएंगे 50,000 रुपये, बस करना हो ये काम
 

आजकल की भागदौड़ में हर कोई पैसे कमाने के पीछे पागल है, लेकिन हर किसी का सपना होता है कि उसका बुढ़ापा आराम से गुजरे। लेकिन आज की महंगाई के दौर में बुढ़ापा पेंशन से गुजारा कर पाना मुश्किल होता है। इसलिए अपने बुढ़ापे को सुरक्षित बनाने के लिए आज से भी प्लानिंग शुरु कर दें।

रिटायरमेंट से पहले जल्दी सेविंग्स की शुरुआत करें ताकि रिटायरमेंट तक आपको ज्यादा पैसा मिले। रिटायरमेंट फंड जमा करने के लिए आपके पास बहुत सारे निवेश विकल्प मौजूद हैं जैसे EPF, NPS, शेयर बाजार, म्यूचुअल फंड्स, रियल एस्टेट वगैरह।

लेकिन इन सभी में एनपीएस सबसे अच्छा विकल्प है। जिसके तहत आपको अच्छा रिटर्न मिलता है। आज हम आपको बता रहें है कि कैसे न्यू पेंशन सिस्टम यानि NPS के जरिए आप अपने लिए 50,000 रुपये हर महीने की पेंशन का इंतजाम कर सकते हैं।

old age

अगर आप 30 सालके हैं तो NPS में हर महीने 10 हजार रुपये निवेश करते हैं। तो रिटायरमेंट के समय जब आप 60 साल के होंगे तो आपके हाथों में एकमुश्त 1 करोड़ रुपये से ज्यादा की रकम होगी और 52 हजार रुपये हर महीने पेंशन आएगी वो अलग।

अगर आप हर महीने पेंशन घटाना या बढ़ाना चाहते हैं तो आपको NPS में निवेश भी उसी हिसाब से घटाना या बढ़ाना होगा। NPS से कुल वेल्थ और पेंशन कई फैक्टर्स पर निर्भर करती है। जैसे कि आप की उम्र क्या है, और इक्विटी मार्केट का परफॉर्मेंस कैसा रहा है। NPS में 18 साल से 65 साल तक का कोई भी व्यक्ति निवेश कर सकता है।

NPS के जरिए आप सालाना 2 लाख रुपये तक का टैक्स बचा सकते हैं। इनकम टैक्स के सेक्शन 80C के तहत आप अधिकतम 1.5 लाख रुपये तक टैक्स बचा सकते हैं, लेकिन 50,000 रुपये अतिरिक्त टैक्स छूट मिलती है अगर आप NPS में निवेश करते हैं।

बता दें कि NPS दो तरह के होते हैं, NPS टियर 1 में न्यूनतम निवेश 500 रुपये है जबकि टियर 2 में 1000 रुपये है। लेकिन इसमें निवेश की कोई अधिकतम सीमा नहीं है। NPS में आप तीन तरह से निवेश कर सकते हैं।

इसमें निवेशक को ये चुनना होता है कि उसका पैसा कहां निवेश किया जाएगा। इक्विटी, कॉर्पोरेट डेट और सरकारी बॉन्ड्स। इक्विटी में ज्यादा एक्सपोजर होने पर इसमें रिटर्न भी ज्यादा मिलता है।

बता दें कि NPS को सरकार की तरफ से गारंटी मिलती है, यानि आपको 9 से लेकर 12 परसेंट तक का सालाना रिटर्न मिलता है। मैच्योरिटी पर आपने 40 परसेंट हिस्सा किसी एन्यूटी स्कीम में निवेश करना होता है ताकि आप रेगुलर पेंशन पा सकें, एन्यूटी का रिटर्न भी 6 परसेंट के करीब होता है।