Yuva Haryana
Atal Pension Yojana : इस सरकारी स्कीम से मिल सकती है 10 हजार रुपए की मसिक पेंशन, जानिए सभी डिटेल व अन्य फायदे
 

Atal Pension Yojana 2022 : आर्थिक अनिश्चतता के दौर में ज्यादातर लोग रिटायरमेंट के बाद की प्लानिंग करते रहते हैं। प्राइवेट नौकरी या छोटे बिजनेस वाले बुढ़ापे के खर्चे को लेकर चिंतित रहते हैं। अगर आप भी रिटायरमेंट के बाद पेंशन के बारे में सोच रहे हैं तो आपके लिए अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojna) एक अच्छा विकल्प हो सकता है।

कम निवेश में पेंशन की गारंटी के लिए यह योजना काफी बेहतर लगती है। वर्तमान में अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojana) के तहत सरकार 60 साल के बाद 1000 से 5000 रुपये महीना पेंशन की गारंटी देती है। यानी, सालाना आपको 60,000 रुपये पेंशन मिलेगी। अगर पति-पत्नी दोनों निवेश कर रहे हैं तो दोनों को पेंशन मिल सकती है। यानी अगर आप 10 हजार रुपये निवेश करते हैं तो सालना 1,20,000 रुपये और मासिक 10,000 रुपये पेंशन मिलेगी। सरकार की इस स्कीम में 40 साल तक की उम्र तक का व्यक्ति आवेदन कर सकता है।

PM Atal Pension Yojana

अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojana) एक आस्थगित पेंशन योजना है। यानी 60 साल की उम्र तक नियमित रूप से योगदान देना जरूरी है। उसके बाद, मासिक पेंशन (Pension) की एक निश्चित राशि शुरू हो जाएगी। यह सामाजिक सुरक्षा योजना (APY) उन्हें योगदान और उसके कार्यकाल के आधार पर 1,000 रुपये से 5,000 रुपये के बीच एक परिभाषित पेंशन प्रदान करती है।

APY विशेषताएं

  • अंशदान की किस्त मासिक, त्रैमासिक या अर्धवार्षिक की जा सकती है ! और राशि 60 वर्ष की आयु के बाद की।
  • आयु, अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojana ) की किश्तों की आवृत्ति और वांछित राशि पर निर्भर करेगी। हालांकि, योगदानकर्ता की उम्र के साथ योगदान बढ़ता है।
  • अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojana ) में पांच अलग-अलग मासिक पेंशन विकल्प हैं। 1,000 रुपये, 2,000 रुपये, 3,000 रुपये, 4,000 रुपये, और 5,000 रुपये, उनकी किश्तों के आधार पर।
  • यहाँ ध्यान देने योग्य प्रमुख बिंदुओं में से एक यह है कि, अंशदाता अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojana) के पूरा होने से पहले राशि नहीं निकाल सकता है।
  • सिवाय इसके कि अंशदान और उस पर अर्जित ब्याज को असाधारण परिस्थितियों, जैसे कि टर्मिनल सिकनेस में वापस लेने की अनुमति दी जाएगी।
  • APY के लिए ऑनलाइन और ऑफलाइन आवेदन की अनुमति है। ऑफलाइन आवेदन के लिए, आवेदकों को अपनी संबंधित बैंक शाखा में जाकर एक फॉर्म भरना होगा। 
  • खाता रखरखाव शुल्क ग्राहक द्वारा भुगतान किया जाएगा। इन्हें खाते से और निवेश पर किए गए ब्याज से काट लिया जाएगा।

APY Eligibility

यह अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojana) उन्हें योगदान और उसके कार्यकाल के आधार पर 1,000 रुपये से 5,000 रुपये के बीच एक परिभाषित पेंशन (Pension) प्रदान करने के लिए शुरू की गई थी। यह योजना 18-40 वर्ष के आयु वर्ग के सभी भारतीयों के लिए खुली है। इस अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojana) के तहत 20 साल की अवधि के लिए निवेश जरूरी है। आपके आधार कार्ड से बैंक खाता लिंक होना अनिवार्य है।

210 Rupees to be Paid Every Month

मौजूदा नियमों के अनुसार अगर 18 साल की उम्र में योजना से अधिकतम 5 हजार रुपये मंथली पेंशन (Pension) के लिए जुड़ते हैं तो आपको हर महीने 210 रुपये देने होंगे। अगर यही पैसा हर तीन महीने में देते हैं तो 626 रुपये और छह महीने में देने पर 1,239 रुपये देने होंगे। महीने में 1,000 रुपये पेंशन पाने के लिए अगर 18 साल की उम्र में निवेश करते हैं तो मासिक 42 रुपये देने होंगे।

Premature Exit

इससे पहले, अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojana)  से किसी भी समय से पहले 60 वर्ष की आयु से पहले बाहर निकलने की अनुमति नहीं थी। सब्सक्राइबर की मृत्यु या लाइलाज बीमारी की स्थिति को छोड़कर। इसके बाद, नियमों को बदल दिया गया और अब, निम्नलिखित शर्तों के अधीन, कोई भी स्वेच्छा से अटल पेंशन योजना (Atal Pension Yojana) से बाहर निकल सकता है।

सरकारी योजना से जुड़ी अन्य बातें

– आप पेमेंट के लिए 3 तरह का प्लान चुन सकते हैं, मंथली निवेश, तिमाही निवेश या छमाही निवेश।

– इनकम टैक्स के सेक्शन 80CCD के तहत इसमें टैक्स छूट का फायदा मिलता है।

– एक सदस्य के नाम से सिर्फ 1 ही अकाउंट खुलेगा।

– अगर 60 साल के पहले या बाद में सदस्य की मौत हो जाती है, तो पेंशन की राशि वाइफ को मिलेगी।

– अगर सदस्य और वाइफ दोनों की मौत हो जाती है तो सरकार नॉमिनी को पेंशन देगी।