\u092B\u0938\u0932 \u0915\u094B \u092E\u0902\u0921\u0940 \u0924\u0915 \u092A\u0939\u0941\u0902\u091A\u093E\u0928\u0947 \u0915\u0947 \u0932\u093F\u090F \u0911\u0928\u0932\u093E\u0907\u0928 \u092E\u093F\u0932\u0947\u0917\u093E \u091F\u094D\u0930\u0915 \u0914\u0930 \u091F\u094D\u0930\u0948\u0915\u094D\u091F\u0930, \u0915\u0947\u0902\u0926\u094D\u0930 \u0938\u0930\u0915\u093E\u0930 \u0915\u0940 \u0939\u0948 \u092F\u0939 \u092F\u094B\u091C\u0928\u093E

“The world’s most advanced Real Content in Hindi”

  1. Home
  2. खेत-खलिहान

फसल को मंडी तक पहुंचाने के लिए ऑनलाइन मिलेगा ट्रक और ट्रैक्टर, केंद्र सरकार की है यह योजना

Yuva Haryana, Chandigarh लॉकडाउन के दौरान फसल को बेचने के लिए मंडियों तक ले जाने वाली दिक्कतों को दूर करने के लिए केंद्र सरकार ने ‘किसान रथ’ नामक मोबाइल ऐप लांच किया है। इसके द्वारा किसान अपने घर बैठे इस मोबाइल ऐप पर ट्रक, ट्रैक्टर और अन्य कृषि मशीनरी किराये...


फसल को मंडी तक पहुंचाने के लिए ऑनलाइन मिलेगा ट्रक और ट्रैक्टर, केंद्र सरकार की है यह योजना

Yuva Haryana, Chandigarh

लॉकडाउन के दौरान फसल को बेचने के लिए मंडियों तक ले जाने वाली दिक्कतों को दूर करने के लिए केंद्र सरकार ने ‘किसान रथ’ नामक मोबाइल ऐप लांच किया है। इसके द्वारा किसान अपने घर बैठे इस मोबाइल ऐप पर ट्रक, ट्रैक्टर और अन्य कृषि मशीनरी किराये पर बुला सकता है। यह मोबाइल ऐप कृषि व किसान कल्याण मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने लांच किया।

इस ऐप पर फिलहाल कुल 5.7 लाख ट्रक व अन्य साधन उपलब्ध हैं, जिन्हें किसान अपनी जरूरत के हिसाब से ऑनलाइन टैक्सी की तरह बुक कर सकते हैं। अपने साधन को बुक करते समय ही ट्रांसपोर्टर से किराया, लोडिंग और अनलोडिंग के बारे में मोल भाव किया जा सकता है।

इसके अलावा किसान रथ ऐप पर कस्टम हायरिंग सेंटर भी दर्ज हैं। इसके द्वारा खेती की अन्य जरूरतों के लिए मशीनरी भी बुक की जा सकती है। ऐप पर 14 हजार से अधिक कस्टम हायर सेंटरों (सीएचसी) के 20 हजार से अधिक ट्रैक्टर भी रजिस्टर्ड हैं। इससे किसानों के साथ ट्रांसपोर्टरों को भी काम मिलेगा, जिसका दोनों पक्ष फायदा उठा सकते हैं। सरकार की ओर से इसकी निगरानी भी की जाएगी, ताकि किसानों का नुकसान न हो सके।

इस समय में जब फसल कट चुकी है और मंडियों में जाने को तैयार है, किसानों को कृषि मशीनें और वाहनों की भारी जरूरत पड़ती है। उपलब्धता न होने की वजह से उसे मुंह मांगा किराया देना पड़ता है। इस समस्या को दूर करने के लिए किसान रथ बहुत फायदेमंद साबित होगा। इससे किसानों को जहां हर घड़ी वाहन व मशीनरी उपलब्ध रहेगी, वहीं कस्टम हायर सेंटर में दर्ज वाहनों व मशीनरी के मालिकों को हर समय काम के मौके मिलेंगे।

आपको बता दें कि यह मोबाइल ऐप देश के सभी राज्यों के किसानों के लिए जारी किया गया है।