MP News: 50 हजार की रिश्वत भी नहीं खरीद पाई IAS तपस्या की ईमानदारी, बहाली के लिए टीचर ने ऑफर किए थे पैसे

Sahab Ram
2 Min Read

मध्य प्रदेश के छतरपुर में एक हैरान कर देने वाला मामला सामने आया है. भ्रष्टाचार की एक नई कहानी सामने आई है।

जिसे जानकर आप दंग रह जाएंगे। एक महिला आईएएस अधिकारी को एक सरकारी शिक्षक ने रिश्वत की पेशकश की है। रिश्वत की रकम 50 हजार रुपये थी. वहीं रिश्वत की बात सुनकर महिला आईएएस अधिकारी का पारा चढ़ गया और उन्होंने शिक्षक को सबक सिखाया.

मामला छतरपुर जिले का है, जहां जिला पंचायत की मुख्य कार्यपालन अधिकारी तपस्या परिहार हैं। मंगलवार को शिक्षक विशाल अस्थाना उन्हें रिश्वत देने पहुंचे। यह सुनते ही महिला आईएएस भड़क गईं और पुलिस बुला ली।

बताया जा रहा है कि शिक्षक ने हाल ही में हुए विधानसभा चुनाव के दौरान ड्यूटी के दौरान घोर लापरवाही बरती थी. इसके बाद जिला पंचायत सीईओ तपस्या परिहार ने शिक्षक को निलंबित कर दिया।

इस घटना के बाद शिक्षक आज जिला पंचायत पहुंचे। उस वक्त तपस्या परिहार ऑफिस में बैठी थीं. आरोपी शिक्षक आवेदन लेकर चला गया. जिसके पास एक लिफाफा भी था,

उसने सीईओ मैडम को 50,000 रुपये की रिश्वत देने की पेशकश की. यह देख तपस्वी परिहार ने कोतवाली टीआई को फोन कर पुलिस बुला ली और उसे गिरफ्तार करवा दिया।

गौरतलब है कि आईपीएस तपस्या परिहार मध्य प्रदेश के नरसिंहपुर जिले की रहने वाली हैं। वह 2017 बैच की आईएएस अधिकारी हैं। उनके पिता एक किसान हैं.

आईएएस तपस्या परिहार ने अपनी शादी में कन्यादान करने से इनकार कर दिया था। उस वक्त भी पूरे देश में उनकी खूब चर्चा हुई थी.

 

Share This Article
Leave a comment