Yuva Haryana
कलयुगी बेटा- 7 लाख रुपये में सुपारी देकर करवाई पिता की हत्या, वजह जानकर रह जाएंगे हैरान
 

हरियाणा के सोनीपत जिले के गांव जाजी में भाई की हत्या के मामले में गवाह पर जानलेवा हमला करने के मामले में गिरफ्तार दो आरोपियों ने पूछताछ में गांव बादशाहपुर माच्छरी के बुजुर्ग का अपहरण करने के बाद उसकी हत्या कर शव को गंग नहर में फेंकना कबूल किया है। 

पूछताछ के दौरान खुलासा हुआ है कि बुजुर्ग की हत्या उसके बेटे ने 7 लाख रुपये में सौदा कर कराई थी। पुलिस ने बुजुर्ग के बेटे को भी गिरफ्तार कर लिया है। आरोपी ने ही अपने पिता की गुमशुदगी का मुकदमा मोहाना थाना में दर्ज करा रखा था।

गांव जाजी निवासी संजय कुमार पर 27 दिसंबर, 2021 को जानलेवा हमला करने के आरोप में सीआईए की टीम ने गांव जाजी के सचिन व उसके साथी गुमड़ के मंदीप को गिरफ्तार किया था। आरोपियों के खिलाफ अपने भाई सुरेंद्र की हत्या में गवाह संजय ने मुकदमा दर्ज कराया था। 

आरोपियों ने रिमांड अवधि में सनसनीखेज खुलासा कर दिया। उन्होंने सीआईए की टीम को बताया कि वह 18 नवंबर, 2021 को गांव बादशाहपुर माच्छरी के राजेंद्र (65) की हत्या कर चुके हैं। पुलिस ने उन्हें राजेंद्र की हत्या में रिमांड पर लेकर पूछताछ की तो उन्होंने बताया कि राजेंद्र की हत्या उसके छोटे मोहित के कहने पर की थी। 

मोहित ने अपने पिता की हत्या कराने के लिए उनके साथ 7 लाख रुपये में सौदा किया था। साथ ही 3 लाख रुपये एडवांस दिए थे। जिसके चलते उन्होंने वारदात को अंजाम दिया। पुलिस ने उनसे गला दबाने में प्रयुक्त परना व 30 हजार रुपये बरामद कर लिए हैं। सीआईए की टीम ने मामले में कार्रवाई करते हुए आरोपी मोहित को भी गिरफ्तार कर लिया है। पुलिस के अनुसार उसने पारिवारिक कलह में हत्या कराना स्वीकार किया है।

गिरफ्तार आरोपियों ने पुलिस के सामने खुलासा किया कि मोहित के कहने पर उन्होंने 18 नवंबर, 2021 को गांव जाजी के अड्डे से कार में राजेंद्र का अपहरण कर लिया था। वहां से वह उन्हें लेकर बड़वासनी के पास पहुंचे और परना से गला दबाकर हत्या कर दी।

सीआईए के अनुसार आरोपी अपने परिवार के साथ रहने के बजाय भाई के परिवार के साथ रहता था। जिसके चलते अक्सर पारिवारिक कलह होती थी। इसी में मोहित अपने पिता से रंजिश रखने लगा। उसने ही षड्यंत्र रचकर अपने पिता की हत्या करा दी।