Haryana \u0915\u0947 \u0938\u093E\u0902\u0938\u0926\u094B\u0902-\u0935\u093F\u0927\u093E\u092F\u0915\u094B\u0902 \u0928\u0947 SYL \u0915\u093E \u092E\u093E\u0902\u0917\u093E \u092A\u093E\u0928\u0940, \u0915\u0947\u0902\u0926\u094D\u0930\u0940\u092F \u0915\u0943\u0937\u093F \u092E\u0902\u0924\u094D\u0930\u0940 \u0924\u094B\u092E\u0930 \u0938\u0947 \u0915\u0940 \u092E\u0941\u0932\u093E\u0915\u093E\u0924

“The world’s most advanced Real Content in Hindi”

  1. Home
  2. Breaking

Haryana के सांसदों-विधायकों ने SYL का मांगा पानी, केंद्रीय कृषि मंत्री तोमर से की मुलाकात

Yuva Haryana, 15 December, 2020 तीन कृषि कानूनों के विरोध में किसानों के आंदोलन के बीच हरियाणा के लोग और सभी सांसद-विधायक भी पंजाब से अपने हिस्से के पानी की मांग कर रहे हैं। इसको लेकर हरियाणा के सांसदों-विधायकों ने केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर से सोमवार को मुलाकात कर...


Haryana के सांसदों-विधायकों ने SYL का मांगा पानी, केंद्रीय कृषि मंत्री तोमर से की मुलाकात

Yuva Haryana, 15 December, 2020

तीन कृषि कानूनों के विरोध में किसानों के आंदोलन के बीच हरियाणा के लोग और सभी सांसद-विधायक भी पंजाब से अपने हिस्से के पानी की मांग कर रहे हैं। इसको लेकर हरियाणा के सांसदों-विधायकों ने केंद्रीय कृषि मंत्री नरेंद्र तोमर से सोमवार को मुलाकात कर एसवाईएल के पानी का मुद्दा उठाया।

बता दें कि इस मुद्दे पर सांसदों-विधायकों ने केंद्रीय मंत्री से कहा कि हरियाणा के किसानों को उनके हिस्से का सतलुज-यमुना नहर से तत्काल पानी दिलाया जाए। क्योंकि सतलुज-यमुना नहर हरियाणा की जीवन रेखा है।

Haryana के सांसदों-विधायकों ने SYL का मांगा पानी, केंद्रीय कृषि मंत्री तोमर से की मुलाकात

उन्होंने कहा कि हरियाणा के हिस्से का 19 लाख एकड़ फीट पानी काफी साल से नहीं मिल रहा है। पंजाब से यह पानी हरियाणा को मिला बहुत जरूरी है। यही नहीं सांसदों-विधायकों ने ऊपरी यमुना पर बनने वाले तीन बांध लखवार, किसाउ और रेणुका के कार्य में भी तेजी लाने की मांग की।

इनमें सांसद डॉ. अरविंद शर्मा, नायब सैनी, राज्यसभा सांसद रामचंद्र जांगड़ा, डीपी वत्स, घरौंडा विधायक हरविंद्र कल्याण समेत अन्य मौजूद रहे। इसके साथ ही केंद्र सरकार द्वारा लाए गए नए कृषि सुधार कानूनों के लिए आभार जताया।

Haryana के सांसदों-विधायकों ने SYL का मांगा पानी, केंद्रीय कृषि मंत्री तोमर से की मुलाकात

सांसदों-विधायकों ने कहा कि किसान संगठनों द्वारा कृषि कानूनों में जो संशोधन सुझाए गए थे, उन्हें सरकार ने स्वीकार कर लिया है। केंद्र सरकार ने किसानों को भरोसा दिलाया है कि न्यूनतम समर्थन मूल्य पर खरीद जारी रहेगी। इसके लिए वे लिखित में देने को तैयार हैं। इसी तरह मंडी व्यवस्था जारी रहने का आश्वासन भी दिया गया है।