\u092A\u0940\u090F\u092E \u092E\u094B\u0926\u0940 \u0915\u094B ‘\u092D\u093E\u0908’ \u092E\u093E\u0928\u0928\u0947 \u0935\u093E\u0932\u0940 \u0910\u0915\u094D\u091F\u093F\u0935\u093F\u0938\u094D\u091F \u0915\u0930\u0940\u092E\u093E \u092C\u0932\u094B\u091A \u0915\u0940 \u0938\u0902\u0926\u093F\u0917\u094D\u0927 \u092E\u094C\u0924, \u091D\u0940\u0932 \u0915\u093F\u0928\u093E\u0930\u0947 \u092E\u093F\u0932\u093E \u0936\u0935

“The world’s most advanced Real Content in Hindi”

  1. Home
  2. Breaking

पीएम मोदी को ‘भाई’ मानने वाली ऐक्टिविस्ट करीमा बलोच की संदिग्ध मौत, झील किनारे मिला शव

Yuva Haryana, 23 December, 2020 बलूचिस्तान की युवा कार्यकर्ता करीमा बलूच कनाडा के टोरंटो शहर में एक झील किनारे संदिग्ध परिस्थितियों में मृत मिलीं। आपको बता दें कि वह कनाडा में निर्वासन में रह रही थीं। करीमा पीएम मोदी को भाई की तरह मानती थीं। तारेक फतह ने कहा कि...


पीएम मोदी को ‘भाई’ मानने वाली ऐक्टिविस्ट करीमा बलोच की संदिग्ध मौत, झील किनारे मिला शव

Yuva Haryana, 23 December, 2020

बलूचिस्तान की युवा कार्यकर्ता करीमा बलूच कनाडा के टोरंटो शहर में एक झील किनारे संदिग्ध परिस्थितियों में मृत मिलीं। आपको बता दें कि वह कनाडा में निर्वासन में रह रही थीं। करीमा पीएम मोदी को भाई की तरह मानती थीं। तारेक फतह ने कहा कि इसके पीछे पाकिस्तान के गंदे हाथ हैं।

पीएम मोदी को ‘भाई’ मानने वाली ऐक्टिविस्ट करीमा बलोच की संदिग्ध मौत, झील किनारे मिला शव

हालांकि उनकी मौत के बारे में अभी कुछ साफ नहीं हो पाया है। वह पिछले तीन दिनों से लापता थीं। कनाडा में शरण लेने वाली करीमा बलोच को 2016 में दुनिया की सबसे प्रभावशाली 100 महिलाओं की सूची में शामिल किया गया था। वह ऐसी महिला थीं जिन्होंने पाकिस्तान के अत्याचार की दास्तां संयुक्त राष्ट्र में भी बयां की थी। यह इस तरह का पहला मामला नहीं है। इसी तरह मई में बलूच पत्रकार साजिद हुसैन मृत पाए गए थे।

पीएम मोदी को ‘भाई’ मानने वाली ऐक्टिविस्ट करीमा बलोच की संदिग्ध मौत, झील किनारे मिला शव

पाकिस्तान करीमा बलूच को रॉ एजेंट मानता था। बलूचिस्तान ऐसा प्रांत है जिसमें संसाधनों की कमी नहीं है, लेकिन पाकिस्तान केवल इनका दोहन करता है। पिछले 15 साल से बलूचिस्तान में विद्रोह तेज हो गया है। यहां सेना अकसर क्रूरता करती है और लोगों को बेवजह जेलों में बंद कर देती है। कई बलूच नेताओं की हत्या भी कर दी गई। करीमा बलोच ने एक इंटरव्यू में कहा था कि वह पीएम मोदी को अपना भाई मानती हैं।

पीएम मोदी को ‘भाई’ मानने वाली ऐक्टिविस्ट करीमा बलोच की संदिग्ध मौत, झील किनारे मिला शव

उन्होंने यह भी कहा था कि सभी बलोच महिलाएं उनकी तरफ उम्मीद की नजर से देख रही हैं। वह बलूचिस्तान छात्र संगठन की चेयर पर्सन रह चुकी हैं। उन्होंने पीएम मोदी को भाई कहकर संबोधित किया था और कहा था कि वह अंतरराष्ट्रीय फोरम पर मानवाधिकार उल्लंघन के खिलाफ आवाज उठाएं। रक्षाबंधन के मौके पर ट्विटर पर राखी शेयर करते हुए उन्होंने पीएम मोदी के सामने गुहार लगाई थी।

पीएम मोदी को ‘भाई’ मानने वाली ऐक्टिविस्ट करीमा बलोच की संदिग्ध मौत, झील किनारे मिला शव

उन्होंने कहा था कि कई बलोच बहनों के भाई लापता हैं और उन्हें अपने भाई का इंतजार है। इस लड़ाई में उनका साथ दे रहे हमाल हैदर से उन्होंने शादी की थी। वह अंतरराष्ट्रीय स्तर पर पाकिस्तान को बेनकाब करने का काम करती थीं इसीलिए पाकिस्तान की नजरों में हमेशा खटकती रहीं।