\u0939\u0930\u093F\u092F\u093E\u0923\u093E \u092E\u0947\u0902 \u0939\u094B\u0932\u0940 \u0939\u094B\u0924\u0940 \u0939\u0948 \u0916\u093E\u0938, \u091C\u093E\u0928\u093F\u092F\u0947 \u0915\u093F\u0938-\u0915\u093F\u0938 \u0907\u0932\u093E\u0915\u0947 \u092E\u0947\u0902 \u0915\u0948\u0938\u0947 \u092E\u0928\u093E\u0908 \u091C\u093E\u0924\u0940 \u0939\u0948 \u0939\u094B\u0932\u0940

“The world’s most advanced Real Content in Hindi”

  1. Home
  2. कला-संस्कृति

हरियाणा में होली होती है खास, जानिये किस-किस इलाके में कैसे मनाई जाती है होली

होली के त्यौहार को लेकर लोगों में अलग ही उमंग होती है. होली के रंगों में और आपसी भेदभाव को भूलकर प्यार और आपसी भाईचारे का त्यौहार है। होली के इस विशेष उत्सव पर हरियाणा के अलग-अलग इलाकों में रंग बिछ गए हैं. होली के त्यौहार पर बाजारों में रंगों...


हरियाणा में होली होती है खास, जानिये किस-किस इलाके में कैसे मनाई जाती है होली

होली के त्यौहार को लेकर लोगों में अलग ही उमंग होती है. होली के रंगों में और आपसी भेदभाव को भूलकर प्यार और आपसी भाईचारे का त्यौहार है।

होली के इस विशेष उत्सव पर हरियाणा के अलग-अलग इलाकों में रंग बिछ गए हैं. होली के त्यौहार पर बाजारों में रंगों की भरमार है ।

हरियाणा में खासतौर पर दो तरीके से होली मनाई जाती है ।

https://youtu.be/5UkzehSGlKM

दूध दही के खाने वाले प्रदेश में अलग अलग बोलियां हैं तो तीज त्यौहार मनाने के ढंग भी कई तरह के हैं।

दिल्ली  के आसपास के इलाकों में ब्रज होली मनाई जाती है तो हरियाणा के अन्य इलाकों में बांगर होली का नजारा देखने को मिलता है।

प्रदेश के ‌दक्षिणी जिलों पलवल, फरीदाबाद, गुरुग्राम और नूंह के आसपास आप ब्रज होली का आनंद ले सकते हैं।

बांगर की बोली और तीज त्यौहार मनाने का तरीका कुछ दूसरी तरह का है। यहां कोड़े या कोरड़ा वाली होली होती है।

https://youtu.be/zMzhI6-EPVk

इसके अलावा करनाल, पानीपत, कुरुक्षेत्र और अंबाला में पंजाबी बहुल एरिया है, तो यहां पर सामान्य तरीके से ही होली मनाई जाती है।

जिस प्रकार से ब्रज होली मनाई जाती है. पलवल के कई इलाकों में दस-पंद्रह दिन पहले ही रंग सजने लगते हैं. यहां पर ढोल भी तैयार कर लिये जाते हैं।

दूसरी तरफ हरियाणा के बांगर इलाके में होली पर मर्द और महिलाएं खास तरीके से मनाती है. यहां पर होली के रंग देखते ही लगते हैं. होली वाले दिन देवर-भाभी रंगों में रंगे दिखते हैं।